मेरा पन्ना

Just another weblog

13 Posts

20 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15138 postid : 1385083

अनसुलझे रहस्य ..!

Posted On: 14 Feb, 2018 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

ढेर सारे
अनसुलझे रहस्यों से भरे
एक बंद आलमारी को
अपने बित्ते भर सर पर
उठाये आदमी
भागता रहता है
दर-बदर |
सोचता रहता है
काश ! मिल जाती वो
तिलिस्मी सी चाभी
और खोल पाता
उस बंद आलमारी को ,
ला देता हर रहस्यों को बाहर
और सुलझा लेता उन्हें
झट से |
लेकिन
इतना आसान कहाँ
जीवन के रहस्यों से
छुटकारा पाना
आदमी के हिस्से है
इनसे जूझना
और फिर थककर
चले जाना |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran